Wed, 4 Jan 2023

MP News: देश की पहली महिला शिक्षिका सावित्री बाई फुले की जयंती पर कांग्रेसजनों ने किया उनका पुण्यस्मरण

देश की पहली महिला शिक्षिका सावित्री बाई फुले की जयंती पर कांग्रेसजनों ने किया उनका पुण्यस्मरण

संवाददाता सुमित कुमार 

देश की पहली महिला शिक्षिका समाज सुधारक सावित्री बाई फुले की जयंती पर प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित पुष्पांजलि कार्यक्रम में कांग्रेसजनों ने उनके चित्र पर माल्यार्पण और पुष्प अर्पित कर उनका पुण्य स्मरण किया। 
प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष प्रकाश जैन ने कहा कि आजादी के बाद समाज में जागृति लाने की भावना को दृष्टिगत रख समाज सुधारक सावित्री बाई फुले देश की पहली महिला शिक्षिका थीं, जिन्होंने समाज सुधार का कार्य किया, महिलाओं के प्रति शिक्षित होने की भावना जागृत की, समाज में महिलाओं की शिक्षा पर जोर दिया और इसके लिए उन्होंने कई कार्य किए। महिला शिक्षा के अलावा अनमोल, प्रेरणादायक और क्रांतिकारी विचारों से ओतप्रोत सावित्रीबाई फुले ने प्लेग जैसी महामारी को लेकर भी कई परोपकारी कार्यों में अपना योगदान दिया।

उन्होंने 18 साल की उम्र में बालिकाओं को पढ़ाना शुरू कर दिया था, वह शिक्षिका के साथ ही समाज सुधारक भी थीं और व्यक्तिगत तौर पर वे कवियत्री भी थी। 


श्री जैन ने बताया कि सावित्रीबाई फुले ने अपने पति के सहयोग से 1848 में पुणे में बालिकाओं के लिए पहला बालिका विद्यालय खोला, जो कि स्त्री शिक्षा की क्रांति के लिए पहला स्तंभ बना, इसके बाद उन्होंने बालिकाओं के अलावा महिलाओं की शिक्षा के लिए 1849 में प्रौढ़ शिक्षा केंद्र की भी स्थापना की। 


इस अवसर पर मप्र महिला कांग्रेस की अध्यक्ष श्रीमती विभा पटेल, श्रीमती आभा सिंह, महामंत्री जे.पी. धनोपिया, डॉ. महेन्द्र सिंह चौहान, संजय मसानी, मीडिया विभाग उपाध्यक्ष सुश्री संगीता शर्मा, राजलक्ष्मी नायक, मिर्जा नूर बेग, मुईनउद्दीन सिद्धीकी, कुसुम राणा, फरहाना खान, महक राणा, गीता जाटव, सहित अन्य कांग्रेसजन उपस्थित थे।   
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता एवं कार्यक्रम समन्वयक आनंद तारण ने कार्यक्रम का संचालन किया।

Advertisement

Advertisement

Advertisement