Wed, 11 Jan 2023

MP: सीए टोपर शिखा जैन ने ऑल इंडिया लेवल पर सेकंड रेंक हासिल कर किया प्रदेश का नाम रोशन

MP: सीए टोपर शिखा जैन ने ऑल इंडिया लेवल पर सेकंड रेंक हासिल कर किया प्रदेश का नाम रोशन 

सुमित कुमार - संवाददाता

Indore; इंदौर मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी होने के साथ ही एजुकेशन हब भी है. यहां के स्टूडेंट अलग-अलग प्रतियोगिता परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन कर इंदौर का नाम समय-समय पर रोशन करते आए हैं.

इसी कड़ी में मंगलवार को CA Final Result घोषित हुआ. इसमें टॉप 50 में इंदौर के 5 छात्रों के नाम हैं. वहीं इंदौर की रहने वाली सीए शिखा जैन ने ऑल इंडिया लेवल पर सेकंड रेंक हासिल की है, जो इंदौर के लिए गौरव की बात है.

बता दें कि सीए फाइनल की एग्जाम 2022 में हुई थी और इस परीक्षा में शामिल होने के लिए 65,291 छात्रों ने किस्मत आजमाई थी. उन सभी को पीछे छोड़ते हुए इंदौर की रहने वाली CA Shikha Jain ने दूसरा स्थान प्राप्त किया है.

शिखा जैन बचपन से ही पढ़ाई में काफी तेज थी. उसका सपना भी एक अच्छा सीए बनने का था. अतः जब उसकी सीए बनने की इच्छा की जानकारी माता-पिता को लगी तो उन्होंने भी काफी सपोर्ट किया. उसे बेहतर परवरिश देने के साथ ही उच्च शिक्षा दी इसी कड़ी में उसने भी अपने माता-पिता का नाम रोशन किया और सीए की एग्जाम की तैयारी करने के लिए 8 से 10 घंटे रोजाना तैयारी करती थी.

शिखा बताती हैं कि उन्होंने परीक्षा की तैयारी करने के दौरान इंटरनेट मीडिया, मोबाइल से दूरी बना ली थी. साथ ही उन्होंने बाहर का खाना भी छोड़ दिया था और घंटो पढ़ाई में समय व्यतीत करती थी. बता दें कि शिखा को पढ़ाई करने के लिए उनकी बहन भी उनकी मदद करती थी, जो खुद भी सीए है.

शिखा जैन की बड़ी बहन खुद सीए हैस उन्होंने शिखा कि काफी मदद की. CA Exam में बड़ी बहन द्वारा जो गलतियां की गई उन गलतियों को उन्होंने पहले ही सबक लेते हुए सीख लिया. यही वजह है कि वो इस परीक्षा में दूसरा मुकाम हासिल कर पाई हैं. शिखा को सीए फाइनल परीक्षा में 800 में से 617 अंक हासिल हुए. वो सिर्फ 1 अंक से पहले स्थान पर नहीं आ सकीं.

शिखा जैन  का कहना है कि वह IIM में पढ़ना चाहती थी लेकिन अचानक से उन्हें सीए बनने का ख्याल आया और तैयारी में लग गईं. अब वह आईआईएम के छात्रों को पढ़ाना चाहती है यह उनका सपना है. बता दे इंदौर शहर के पांच और भी ऐसे छात्र और छात्राएं हैं जिन्होंने सीए की एग्जाम में Top 50 में जगह बनाई है.

Advertisement

Advertisement

Advertisement