Sun, 12 Jun 2022

महाराष्‍ट्र और दिल्ली में फिर बढ़े कोरोना संक्रमण के मामले

महाराष्‍ट्र और दिल्ली में फिर बढ़े कोरोना संक्रमण के मामले

देश में कोरोना संक्रमण फिर तेजी पकड़ रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह के आंकड़ों के अनुसार बीते 24 घंटों में 8,329 नए मामले मिले हैं 10 लोगों की मौत हुई है. पांच मौतें तो सिर्फ केरल से हुई हैं.

आंकड़ों की भाषा में बात करें तो 103 बाद पहली बार एक दिन में इतने ज्यादा मामले सामने आए हैं. राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में भी कोरोना के मामलों में भारी बढ़ोतरी दर्ज की गई है. दिल्‍ली में 24 घंटे में 795 मामले सामने आए हैं. इसके अलावा मुंबई में भी कोविड-19 के केस बढ़े हैं.

दिल्ली में शुक्रवार को आए थे 655 केस
दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य बुलेटिन में बताया गया कि राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार को पिछले 24 घंटों में कोरोना के 795 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि शुक्रवार को मामलों की संख्या 655 थी. हालांकि शहर में किसी भी नागरिक की कोविड से संबंधित मौत होने की सूचना नहीं मिली है. इस बीच दिल्ली में कोविड सकारात्मकता दर बढ़कर 4.11 प्रतिशत हो गई है. राजधानी में सक्रिय मामलों की संख्या भी बढ़कर 2,247 हो गई है. पिछले 24 घंटों में 556 मरीजों के ठीक होने के साथ अब कुल ठीक होने की दर 18,83,598 हो गई है. नए कोविड मामलों के साथ शहर का कुल केस लोड 19,12,063 हो गया है, जबकि मरने वालों की संख्या 26,218 है. शहर में कोविड के नियंत्रण क्षेत्रों की संख्या 174 है.

20,201 लोगों ने लगवाए टीके
पिछले 24 घंटों में कुल 19,326 नए परीक्षण, 13,190 आरटी-पीसीआर 6,136 रैपिड एंटीजन टेस्ट किए गए, जिनकी अबतक कुल संख्या 3,87,34,272 हो गई है, जबकि 20,201 लोगों ने कोविड टीकाकरण कराया है, जिसमें 2,006 लोगों ने पहली डोज, 6,275 दूसरी डोज 11,920 लोगों ने  डोज ली है.

मुंबई में 1,745 मामले
दिल्ली के अलावा महाराष्‍ट्र में बीते 24 घंटे में कोरोना के 2922 नए मामले सामने आए हैं.  महीनों के बाद मुंबई में संक्रमण के सक्रिय मामले भी बढ़कर 10,047 हो गए हैं. मुंबई में शनिवार को कोरोना के 1,745 नए मामले सामने आए जबकि एक व्‍यक्ति की मौत हो गई. हालांकि स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि मामलों में हो रही बढ़ोतरी से घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि देश में कोरोना का कोई नया चिंताजनक वैरिएंट नहीं मिला है. बढ़ते मामलों की एक बड़ी वजह कोविड उपयुक्त व्यवहार का पालन नहीं करना बूस्टर खुराक लेने में लोगों की ओर से बरती जा रही लापरवाही भी वजह है.

Advertisement

Advertisement