Thu, 24 Nov 2022

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने 284 विकास योजनाओं की दी सौगात

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने 284 विकास योजनाओं की दी सौगात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज झांसी और प्रयागराज के दौरे पर रहेंगे. दोनों की जनपदों के लोगों को वह करोड़ों की परियोजनाओं की सौगात देंगे. वहीं प्रयागराज में आज सीएम योगी की उपस्थिति में महाकुंभ-2025 के प्रस्तावों पर मुहर लगेगी. इसके साथ ही इस भव्य आयोजन की तैयारियों की औपचारिक शुरुआत हो जाएगी.

झांसी में 327 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ झांसी में 327.48 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे. मुख्यमंत्री 307.24 करोड़ की 93 परियोजनाओं एवं कार्यों का लोकार्पण और 20.24 करोड़ की नौ परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे.

 प्रमुख योजनाओं का होगा लोकार्पण

  • बबीना के 15 गांवों में सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने की 246.84 करोड़ की परियोजना.

  • बबीना के रुद्रबलौरा गांव में 11.46 करोड़ से बना राजकीय आईटीआई का भवन.

  • रानीपुर लुहार गांव मार्ग पर 7.84 करोड़ से बना सुखनई नदी सेतु एवं पहुंच मार्ग.

  • 4.26 करोड़ से बरुआसागर से तिलैथा के बीच बना 22 किलोमीटर का मार्ग.

  • एक करोड़ से चार स्कूलों में स्मार्ट क्लास रूम का निर्माण व मरम्मत कार्य.

 मुख्य कार्यों का होगा शिलान्यास

  • 8.93 करोड़ से होने वाला बिजौली तालाब का सौंदर्यीकरण.

  • 4.16 करोड़ से यूनिवर्सिटी पुलिस चौकी से जेल चौराहा एवं जीवनशाह तिराहे से बीकेडी चौराहा होते हुए ग्वालियर रोड स्थित अटल पथ तक बायीं ओर आइकोनिक रोड योजना के तहत सौंदर्यीकरण का कार्य.

  • 63 लाख से बरुआसागर के फुटेरा गांव में खेल मैदान-मिनी इंडोर हॉल का निर्माण कार्य.

  • 50 लाख से दुनारा में होने वाले भूखंड पर बारात घर का निर्माण.

प्रयागराज को 1,295 करोड़ रुपये की 284 परियोजनाओं की सौगात

संगम नगरी के विकास में परेड मैदान पर आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगभग 1,295 करोड़ रुपये की 284 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे. इस दौरान वह तीन योजनाओं के 20 लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र भी देंगे। इसके बाद महाकुंभ 2025 का रोडमैप तय करेंगे. इसके साथ ही संगम की धरती से महाकुंभ-2025 की तैयारियों की औपचारिक शुरुआत हो जाएगी.

मुख्यमंत्री महाकुंभ और माघ मेला की तैयारियों के संबंध में बैठक करेंगे. आयोजन को लेकर विभिन्न विभागों के प्रस्तावों को हरी झंडी दी जाएगी. इन विकास कार्यों की सूची के साथ अन्य तैयारी भी कर ली गई है. लगभग दो घंटे तक होने वाली इस बैठक में महाकुंभ का पूरा प्लान तैयार हो जाएगा. बैठक में मुख्यमंत्री की ओर से महाकुंभ को लेकर दीर्घकालीन कई परियोजनाओं को हरी झंडी भी दी जा सकती है.

Advertisement

Advertisement