Mon, 20 Jun 2022

Bharat Bandh:अग्निपथ स्कीम के विरोध में आज भारत बंद ,रेलवे अधिकारी हाई अलर्ट पर

Bharat Bandh:अग्निपथ स्कीम के विरोध में आज भारत बंद ,रेलवे अधिकारी हाई अलर्ट पर

नई दिल्ली: केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना को लेकर देश के तमाम राज्यों में हिंसक प्रदर्शन हो रहा है.इस भर्ती योजना के खिलाफ देशव्यापी बंद का आह्वान किया गया है। जिस तरह से पिछले कुछ दिनों में प्रदर्शनकारियों ने कई ट्रेनों को आग के हवाले किया है उसको देखते हुए रेलवे प्रोटेक्शनफोर्स और गवरमेंट रेलवे पुलिस यानि जीआरपी को हाई अलर्ट पर रखा गया है। आज होने वाले भारत बंद के लिए दोनों ही सुरक्षा एजेंसियों से अलर्ट पर रहने के लिए कहा गया है। आरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारी ने अपने विभाग के अंदर आंतरिक बयान जारी करके सभी यूनिट को निर्देश दिया है कि वह दंगाइयों के खिलाफ सख्ती से पेश आएं।

वहीं पुलिसकर्मियों से कहा गया है कि वह वह दंगाइयों के खिलाफ केस दर्ज करें, उनके खिलाफ सख्त धाराओं के तहत केस दर्ज किया जाए। पुलिस से कहा गया है कि दंगाइयों के खिलाफ डिजिटल सबूत इकट्ठा किए जाएं,मोबाइल फोन के जरिए, सीसीटीवी कैमरा और वीडियो रिकॉर्डिंग के जरिए इनके खिलाफ सबूत इकट्ठा किए जाएं। वीडियो सबूत के आधार पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा पुलिस अधिकारियों से कहा गया है कि वह सुरक्षा किट को जरूर पहनें और आगे से नेतृत्व करने के लिए तैयार रहें अगर स्थिति नियंत्रण से बाहर जाती है।

भारत बंद को देखते हुए बिहार में 20 जिलों में इंटरनेट की सेवा को बंद कर दिया गया है। इसमे कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, वेस्ट चंपारन, ईस्ट चंपारन, समस्तीपुर, लक्खीसराय, वैशाली, सरन, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, मधुबनी, जहानाबाद, खगरिया, शेखपुरा शामिल हैं। भारत बंद को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था को काफी पुख्ता किया गया है, जिन भी जगहों पर हालात संवेदनशील हैं वहां पर सेना को तैनात किया गया है, पंजाब में केंद्रीय एजेंसियों को तैनात किया गया है। पंजाब पुलिस के एडीजीपी ने जिला पुलिस के मुखियाओं को अलर्ट रहने को कहा है। जिला पुलिस चीफ को कहा गया है कि वह सेना के साथ संपर्क बनाए रखें। पुलिसकर्मियों को कहा गया है कि भाजाप और हिंदू नेताओं व उनके ऑफिस को सुरक्षा दें।


नोएडा में पुलिस ने धारा 144 को लागू कर दिया है। यहां चार से अधिक लोगों के एक साथ इकट्ठा होने पर पाबंदी है। पुलिस ने लोगों से अपील की है कि वह किसी भी कानून विरोधी गतिविधि में शामिल ना हों। बता दें कि अभी तक नोएडा में 225 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है, 15 को गिरफ्तार किया गया है। इन लोगों ने जेवर टोल प्लाजा के पास शुक्रवार को हिंसक प्रदर्शन किया गया था।

वहीं रेलवे की बात करें तो सात ट्रेनों को रद्द किया जा चुका है, ये ट्रेनें बिहार, पश्चिम बंगाल के अलग-अलग शहरों की हैं,इन ट्रेनों को अग्निपथ भर्ती योजना के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन के चलते रद्द किया गया है। इसके अलावा पश्चिम बंगाल और बिहार की 10 अन्य ट्रेनों के समय में बदलाव किया या है। दो ट्रेनों के रूट को भी बदला गया है। बिहार के मुख्य सचिव आमिर सुभानी ने सभी जिला मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने सभी से उनके फीडपैक लिए और निर्देश दिया कि सुरक्षा को सख्त रखा जाए।

वहीं झारखंड में आज के भारत बंद को देखते हुए स्कूलों को बंद कर दिया गया है। अधिकारी ने बताया कि बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। कक्षा 9 और 11 की चल रही परीक्षा की तारीख को बदल दिया गया है। स्कूल एजूकेशन एंड लिटरेसी विभाग के सचिव राजेश कुमार शर्मा ने बताया कि हम नहीं चाहते हैं कि स्कूली बच्चे जो बस से यात्रा करते हैं उन्हें किसी भी तरह की दिक्कत हो। हमने बिहार में देखा है कि कैसे बच्चों को जबरन बस से नीचे उतारा गया और बस में आग लगा दी गई।
 

Advertisement

Advertisement