Mon, 12 Sep 2022

अमेरिका के न्यूयॉर्क में गंदे पानी में पोलियो वायरस पाए जाने के बाद स्टेट इमरजेंसी घोषित

अमेरिका के न्यूयॉर्क में गंदे पानी में पोलियो वायरस पाए जाने के बाद स्टेट इमरजेंसी घोषित

पूरी दुनिया में कोरोना का साया काफी दिन तक बना रहा। हालांकि दुनिया के कुछ हिस्सों में अभी भी सावधानी बरती जा रही है। इसी बीच अमेरिका के न्यूयॉर्क से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां पोलियो का नया वायरस मिलने से हड़कंप मच गया है। जांच के बाद सरकार ने न्यूयॉर्क ने इमरजेंसी का ऐलान कर दिया है।
स्टेट इमरजेंसी घोषित कर दिया गया
दरअसल, अमेरिका के न्यूयॉर्क में गंदे पानी में पोलियो वायरस पाए जाने के बाद स्टेट इमरजेंसी घोषित कर दिया गया है। बताया गया है कि फैसला टीकाकरण की दर बढ़ाने के लिए लिया गया है। राज्य के कुछ हिस्सों में पोलियो टीकाकरण का रेट काफी कम है। इसके साथ ही पोलियो वायरस के सैंपल और पोलियो के मरीजों की देखभाल करने वाले स्वास्थ्यकर्मियों को बूस्टर खुराक देने का निर्देश है।
नाली के पानी में पाया गया वायरस
चौंकाने वाली बात यह भी है कि पोलियो वायरस न्यूयॉर्क के लॉन्ग आइलैंड की नसाउ काउंटी की एक नाली के पानी में पाया गया है। हालांकि यह वायरस किसी संक्रमित व्यक्ति से आया है या नहीं, अभी तक यह स्पष्ट नहीं है। स्वास्थ्य कमिश्नर मेरी बैसेट ने कहा कि पोलियो को लेकर हम कोई मौका नहीं ले सकते हैं। अगर आपको या आपके बच्चे को वैक्सीन नहीं लगी है या सभी खुराकें नहीं लगी हैं तो इस पैरालाइटिक बीमारी का खतरा है।
टीकाकरण को युद्ध स्तर पर चलाने के आदेश
वहीं न्यूयॉर्क की गवर्नर कैथी होचुल ने न्यूयॉर्क के पोलियो टीकाकरण की प्रक्रिया को युद्ध स्तर पर चलाने के आदेश दिए हैं। अधिकारियों को अलर्ट मोड पर रखा गया है। हेल्थ डिपार्टमेंट की ओर से कहा गया है कि पोलियो वायरस के यह केस काफी घातक साबित हो सकते हैं। अगर अभी लापरवाही की जाती है तो आने वाले दिनों में यह भी संभव है कि लोगों की मौत भी हो सकती है।
बता दें कि पोलियो वायरस सबसे ज्यादा बच्चों को प्रभावित करता है। इसे सिर्फ वैक्सीन की मदद से ही कंट्रोल किया जा सकता है। फिलहाल न्यूयॉर्क स्वास्थ्य विभाग ने कहा है कि हालांकि अभी तक सिर्फ एक ही मामला दर्ज किया गया है, लेकिन इस पार काम शुरू हो गया है।

Advertisement

Advertisement