Tue, 1 Nov 2022

घर की नकारात्मकता को दूर करने के लिए आप आंवला नवमी के दिन पौधे लगा सकते हैं

घर की नकारात्मकता को दूर करने के लिए आप आंवला नवमी के दिन पौधे लगा सकते हैं

हिंदू धर्म में व्रत पूजा को बेहद ही खास माना जाता है वही आंवला नवमी का व्रत बेहद महत्वपूर्ण होता है पंचांग के अनुसार यह व्रत हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को किया जाता है इसे आंवला नवमी और अक्षय नवमी के नाम से भी जाना जाता है इस दिन महिलाएं सुखी जीवन की कामना से उपवास रखती है

आंवला नवमी पर भगवान श्री हरि विष्णु और आंवले की विधिवत पूजा आराधना की जा सकती है धार्मिक मान्यतओं के अनुसार आंवले के पेड़ पर जगत के पालनहार श्री हरि विष्णु का वास होता है इसी कारण अक्षय नवमी पर आंवले के पेड़ की पूजा की जाती है इस दिन पूजा पाठ के साथ साथ कुछ उपायों को भी किया जाए तो जीवन की कई परेशानियां दूर हो सकती है तो आज हम आपको उन्हीं उपायों के बारे में बता रहे हैं तो आइए जानते हैं। 

आंवला नवमी पर करें ये उपाय—


आंवले को सेहत के लिए बेहद ही लाभकारी माना जाता है यह गुणकारी भी होता है आंवला व्यक्ति की सेहत के साथ साथ जीवन की कई परेशानियों को भी दूर कर सकता है आंवला नवमी पर व्रत और पूजा के बाद गरीबों व जरूरतमंदों को भोजन करना लाभकारी माना जाता है अगर आंवले के पेड़ के नीचें जरूरतमंदों को खाना खिलाया जाता है तो इससे धन संबंधी परेशानियां दूर हो जाती है और आर्थिक स्थिति मजबूत होती है। इस दिन भगवान श्री हरि विष्णु के साथ धन की देवी माता लक्ष्मी की ​अगर विधिवत पूजा की जाए तो जीवन में सुख समृद्धि का आगमन होता है

इस दिन भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी को उनकी प्रिय चीजों का भोग लगाना उत्तम माना जाता है। मान्यता है कि आंवला नवमी के दिन अगर आवंले की पूजा विधिवत तरीके से कि जाए तो श्री हरि भूल चूक को माफ कर देते हैं और पापों से भी मुक्ति दिलाते हैं इस दिन आवंले की पूजा को भी शुभ माना गया है। घर की नकारात्मकता को दूर करने के लिए आप आंवला नवमी के दिन पौधे लगा सकते हैं इसे शुभ माना जाता है वही घर को बुरी नजर से बचाने के लिए आंवले का पेड़ घर में लगाया जा सकता है इससे परेशानियां दूर हो जाती है और धन में वृद्धि होती है। 

Advertisement

Advertisement